भगवान शिव को मंत्रों से कैसे खुश करें

By adarsh

Published on:

भगवान शिव को मंत्रों से कैसे खुश करें

भगवान शिव को हिंदू धर्म में सबसे शक्तिशाली और दयालु देवताओं में से एक माना जाता है। वे सभी देवताओं के देवता हैं और उन्हें “देवों के देव” के रूप में जाना जाता है। शिव जी को उनकी दया और करुणा के लिए भी जाना जाता है। इसलिए इन्हें भोलेनाथ के नाम से भी जाना जाता है।

शिव जी की कृपा प्राप्त करने के कई तरीके हैं, जिनमें से एक है मंत्रों का जाप करना। मंत्रों का जाप करने से शिव जी प्रसन्न होते हैं और अपने भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूरी करते हैं।

इस लेख में, हम जानेंगे कि भगवान शिव को मंत्रों से कैसे खुश करें।

Picsart 23 12 30 21 23 29 061

शिव मंत्रों का महत्व:

मंत्र एक शक्तिशाली शक्ति हैं जो देवताओं को प्रसन्न करने में मदद कर सकते हैं। शिव मंत्र विशेष रूप से प्रभावशाली होते हैं क्योंकि वे शिव जी के स्वरूप और शक्तियों को प्रकट करते हैं।

शिव मंत्रों का जाप करने से कई लाभ होते हैं, जिनमें शामिल हैं:

  • शिव जी की कृपा प्राप्त करना
  • सभी मनोकामनाओं की पूर्ति
  • आध्यात्मिक उन्नति
  • अच्छी सेहत और समृद्धि

शिव मंत्रों का जाप कैसे करें:

शिव मंत्रों का जाप करने के लिए, आपको निम्नलिखित चरणों का पालन करना चाहिए:

  1. एकांत स्थान चुनें जहां आपको कोई परेशान न करे।
  2. एक साफ आसन पर बैठें और अपने सामने शिव जी की तस्वीर या प्रतिमा रखें।
  3. अपने हाथों को जोड़ें और शिव जी का ध्यान करें।
  4. मंत्र का जाप शुरू करें।
  5. मंत्र का जाप धीरे-धीरे और स्पष्ट रूप से करें।
  6. मंत्र का जाप करते समय, अपने मन को एकाग्र रखें।
  7. मंत्र का जाप कम से कम 108 बार करें।

कुछ शक्तिशाली शिव मंत्र:

  • महामृत्युंजय मंत्र:

ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्। उर्वारुकमिव बन्धनान् मृत्योर्मुक्षीय मामृतात्॥

ॐ तत्पुरुषाय विद्महे महादेवाय धीमहि,
तन्नो रूद्रः प्रचोदयात्॥
  • **ॐ नमो भगवते रुद्राय॥
* **ॐ हौं जूं सः॥
अंतिम विचार:

शिव मंत्रों का जाप करना एक शक्तिशाली तरीका है भगवान शिव की कृपा प्राप्त करने का। यदि आप शिव जी के भक्त हैं और उनकी कृपा चाहते हैं, तो इन मंत्रों का जाप करना शुरू करें। आप जल्द ही उनके आशीर्वाद को महसूस करेंगे।

मां दुर्गा की कृपा कैसे प्राप्त करें

adarsh

Leave a Comment