अयोध्या में सरयू नदी के तट पर स्थित राम मंदिर हिंदू धर्म के सबसे पवित्र और महत्वपूर्ण स्थलों में से एक है

1528 में बाबर ने अयोध्या में एक मस्जिद बनवाने का आदेश दिया था, जिससे सदियों से हिंदू-मुस्लिम विवाद चल रहा था

1992 में हिंदू कार्यकर्ताओं ने विवादित राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद ढांचे को ध्वस्त कर दिया, जिससे हिंसा भड़क उठी

नवंबर 2019 में सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुनाया कि विवादित जमीन हिंदू पक्ष को दी जाए

मंदिर का डिजाइन पारंपरिक भारतीय मंदिर वास्तुकला से प्रेरित है

यह सफेद मकराना संगमरमर से बना है और इसमें पांच गुंबद और ऊंचे शिखर हैं

मंदिर परिसर 70 एकड़ में फैला हुआ है और इसमें कई अन्य मंदिर, तीर्थयात्री सुविधाएं और बगीचे शामिल होंगे

यह भारत की सांस्कृतिक विरासत और राम के आदर्शों का प्रतीक है